International Women’s Day Shayari in Hindi अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस शायरी

International Women’s Day Shayari in Hindi

International Womens Day Shayari in Hindi

क्यों कहती है दुनिया की नारी कमजोर है
अरे आज भी उनके हाथो घर चलाने की डोर है

International Women’s Day Shayari

कुछ लोग कहते है की नारी का कोई घर नहीं होता
अरे आप ये क्यों नहीं समझते की नारी के बिना कोई घर ही नहीं होता

International Women’s Day

औरत जो समझता था खिलौना
उस शख्स को दामाद भी वैसा ही मिला

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस शायरी हिंदी में

अपमान मत करना नारियो का
इनके बल पर तो जग चलता है
अरे मर्द जन्म लेकर इन्ही की तो गोद में पलता है

1. HINDI LYRICSClick Here
2. HINDI CAPTIONSClick Here
3. AUTHORSClick Here
4. POETRYClick Here
5. POEMClick Here
6. PAHELIYANClick Here

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस शायरी

औरत कभी खिलौना नहीं होती
परमात्मा के बाद पूजनीय औरत ही होती है
जो मौत की गौद में जाकर जिंदगी को जन्म देती है

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

कुछ माँगा नहीं कुछ चाहा नहीं
बदला बस खुद को की रिश्ता टूट ना जाये कही

Spread the love
Get It OnImportant Link
Join Our Facebook PageClick Here
Join Our Facebook GroupClick Here
Follow On TwitterClick Here
Join Our Email ServiceClick Here
Follow On Google NewsClick Here
Follow On InstagramClick Here
Follow On PinterestClick Here
Follow On FlickrClick Here
Join Our Telegram ChannelClick Here
Join Our Youtube ChannelClick Here
Follow On LinkedinClick Here

Leave a Comment

Your email address will not be published.