Munshi Premchand Death Anniversary Shayari in Hindi

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari in Hindi

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari in Hindi

“स्वार्थ की माया अत्यन्त प्रबल है।” – Munshi Premchand

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari

“जब हम अपनी भूल पर लज्जित होते हैं, तो यथार्थ बात अपने आप ही मुंह से निकल पड़ती है।” – Munshi Premchand“

Munshi Premchand Death Anniversary

डरपोक प्राणियों में सत्य भी गूंगा हो जाता है।” – Munshi Premchand“

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari Images

जीवन का वास्तविक सुख, दूसरों को सुख देने में हैं, उनका सुख लूटने में नहीं।” – Munshi Premchand

1000 Hindi Lyrics (हिंदी गाने) Read Best Lyrics In Hindi1000 Hindi Captions (हिंदी कैप्शन) Read Best Captions In Hindi
Famous Authors Quotes About Friendship, Life, Love, Success1000 Hindi Poetry (हिंदी कविता) Read Best Poetry In Hindi
1000 Hindi Poem (हिंदी कविता) Read Best Poem In Hindi1000 Hindi Paheliyan (हिंदी पहेलियाँ) Read Best Paheliyan In Hindi

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari Photos

आत्मसम्मान की रक्षा हमारा सबसे पहला धर्म ओर अधिकार है। – Munshi Premchand“

Munshi Premchand Death Anniversary Shayari pic

संसार के सारे नाते स्‍नेह के नाते हैं, जहां स्‍नेह नहीं वहां कुछ नहीं है।” – Munshi Premchand“

यश त्याग से मिलता है, धोखाधड़ी से नहीं।” – Munshi Premchand

“अतीत चाहे जैसा हो, उसकी स्मृतियाँ प्रायः सुखद होती हैं।” – Munshi Premchand“

चिंता रोग का मूल है।” – Munshi Premchand

अन्याय होने पर चुप रहना, अन्याय करने के ही समान है। – Munshi Premchand“

मन एक डरपोक शत्रु है जो हमेशा पीठ के पीछे से वार करता है।” – Munshi Premchand“

निराशा सम्भव को असम्भव बना देती है।” – Munshi Premchand

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *