सबूतों की ज़रुरत पड़ रही है

सबूतों की ज़रुरत पड़ रही है ,

यकीनन दूरियां अब बढ़ रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *