मेरी चाह हैं नया साल हो कुछ ऐसा ना हो जिसमे

मेरी चाह हैं नया साल हो कुछ ऐसा
ना हो जिसमे कोई किसी का दिल दुखाने वाला
दुनिया में नहीं हैं, जिनका कोई
नया साल में हो उनको कोई गले लगाने वाला
उजड़ी हुयी आँखें, जिनकी ज़िन्दगी में हैं अँधेरा
नया साल हो उनके दुबारा सपने दिखाने वाला
तनहा और उदास लोगो के आशियानों में
नया साल हो खुशियो की बारिश करने वाला
दुःख, दर्द, दुश्मनी सब को मिटाकर
नया साल हो सबसे दोस्ती कराने वाला
ऐसी चाह मेरी, कुछ ऐसा हो साल आने वाला

Views